Articles — Navdurga

Shri Mangal Chandika Stotram in Sanskrit ( श्री मंगल चंडिका स्तोत्रम् )

Apr 20 2017 0 Comments Tags: Durga, Navdurga, sanskrit, stotram

Shri Mangal Chandika Stotram was composed in Sanskrit. Shri Mangal chandika Stotram is mentioned in Prakruti-Khanda from Brahmavaivarta Purana (Adhya 44/20-36). Shri Mangal Chandika stotram is chanted to receive the blessings from the Goddess Devi Mangal Chandika. All desires of the devotee are fulfilled by chanting this stotram for ten lakh times. Chandika or Ran-Chandi (Caṇḍīka) is the supreme Goddess of Devi Mahatmya (Sanskrit: Devīmāhātmyam, देवीमाहात्म्यम्) also known as Chamunda or Durga as mentioned in Durga Saptashati. Chandi is described as the Supreme reality who is a combination of Mahakali, Maha Lakshmi and Maha Saraswati. Later in the Murti Rahasyam she is described as Maha...

Read More

Maa Durga Mantras ( मां दुर्गा के मंत्र )

Oct 11 2016 0 Comments Tags: Durga, mantra, Navdurga, Navratri, sanskrit

Below given about Goddess Durga's most powerful and effective mantras. These mantras are dedicated to all the devotees of Supreme Power, Maa Durga. Chant the beautiful matras of Divine mother, who represents strength, morality, prosperity, power and protection. Attain the happiness and Divine power by the Mantras of Durga Mantras, which are the form of prayers offered to Goddess Durga. यहाँ आप कई प्रकार के माँ दुर्गा के मंत्र पा सकता है जिससे आप कई मुसीबतों से बाहर आ सकते है अपने जीवन में। पूर्ण श्रद्धा से किया गया मंत्र उच्चारण फल अवश्य देता है । 1. उपयुक्त इच्छा को पूरा करने के लिए दुर्गा मंत्र । यह मंत्र...

Read More

Navdurga ( नवदुर्गा )- The nine forms of Goddess Durga

Oct 08 2016 0 Comments Tags: Durga, Navdurga, Navratri, stories

पौराणिक मान्यता है कि शक्ति ही संसार का कारण है, जो अनेक रूपों में हमारे अंदर और आस-पास चर-अचर, जड़-चेतन, सजीव-निर्जीव सभी में अनेक रूपों में समाई है। शक्ति के इसी महत्व को जानते हुए हिन्दू धर्म के शास्त्र-पुराणों में शक्ति उपासना व जागरण की महिमा बताई गई है। जिससे मर्यादा और संयम के द्वारा शक्ति संचय व सदुपयोग का संदेश जुड़ा है। धार्मिक परंपराओं में नवरात्रि के रूप में प्रसिद्ध इस विशेष घड़ी में शक्ति की देवी के रूप में पूजा होती है। जिनमें शक्ति के 3 स्वरूप महाकाली, महालक्ष्मी, महासरस्वती प्रमुख रूप से पूजनीय है। जिनको बल, वैभव...

Read More

To add this product to your wish list you must

Sign In or Create an Account

Back to the top